Breaking News

नोएडा में भी 17 अप्रैल नाइट कर्फ्यू पर लागू, रात 10 बजे से सुबह 5 बजे घरों से निकलने पर रोक

देश और प्रदेश में एक बार फिर तेजी से पैर पसार रहा कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामलों के मद्देनजर गौतमबुद्ध नगर में 17 अप्रैल तक के लिए नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। नाइट कर्फ्यू का समय रात दस बजे से सुबह पांच बजे तक रहेगा। हालाँकि, इस दौरान आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को छूट रहेगी। इससे पहले पड़ोसी शहर दिल्ली और गाजियाबाद में भी नाइट कर्फ्यू लगाया जा चुका है।

जिलाधिकारी सुहास एलवाई द्वारा गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग, पुलिस और अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ हुई बैठक में इस संबंध में चर्चा की गई। शासन के द्वारा नाइट कर्फ्यू का फैसला जिला प्राधिकरणों को लेने के निर्देश दिए गए थे। जिलाधिकारी ने बताया कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिले में कुछ सख्ती होगी और को विभाजित -19 के प्रोटोकोल का पालन होगा।

जिले में अब तक कुल 26,697 लोग हैं कोरोनाइरस से सावधान पाए गए हैं, जिनमें से 25,952 रोगी कोरोना मुक्त होकर अपने घर लौट रहे हैं। वहीं, 93 लोगों की संक्रमण से मौत हुई है।

रिकॉर्ड 125 समितियां मिलीं, केवल कुछ दिन का केक बचा

गौतमबुद्ध नगर में चार महीने के बाद बुधवार को एक दिन में सबसे अधिक रिकॉर्ड 125 रोगियों की पुष्टि की गई। इससे पहले छह दिसंबर को 138 कोरोनाटे रोगी मिले थे। वहीं, स्वास्थ्य विभाग के पास अब कुछ दिनों की वैक्सीन ही बची है। मार्च के बाद से कोरोनाटे रोगियों की संख्या में लगातार वृद्धि हुई है। आने वाले दिनों में कोरोना संक्रमण का और भी फैलाव होने की आशंका जताई जा रही है।

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार को को विभाजित अस्पताल और होम आइसोलेशन से 49 मरीज स्वस्थ हुए। सक्रिय मरीजों की संख्या 652 हो गई है। कुल मरीजों की संख्या 26,697 तक पहुंच गई है। कोरोना संक्रमण के बढ़ने का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि 15 फरवरी को जिले में सक्रिय रोगियों की संख्या 42 थी, जो अब 15 गुना बढ़ गई है।

निजी अस्पतालों में भी इलाज की सुविधा शुरू

कोरोना संक्रमण को बढ़ता देख स्वास्थ्य विभाग ने सरकारी के साथ ही निजी अस्पतालों में भी इलाज की सुविधा शुरू कर दी है। अगले सप्ताह से छह और नए अस्पतालों में रोगी इलाज करेंगे। वर्तमान में दो सरकारी और दो निजी अस्पतालों में मरीजों का इलाज चल रहा है।

अगले सप्ताह नए कॉविड अस्पताल भी शुरू होंगे: स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार अब तक 93 मरीजों की इलाज के दौरान मौत हो चुकी है। स्वस्थ होने वाले कुल रोगियों की संख्या 25952 हो गई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ। दीपक ओहरी ने बताया कि रोगियों की जांच और उनका इलाज प्राथमिकताओं में है। टीकाकरण अभियान भी चल रहा है। इससे जल्द ही कोरोना संक्रमण को नियंत्रित किया जाएगा। नए कोविड अस्पताल भी अगले सप्ताह से शुरू हो जाएंगे।

ये भी पढ़ें: अब गाजियाबाद में लगाए गए नाइट कर्फ्यू, रेड जोन के लिए नई व्यवस्थाएं लागू हैं




Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button