Breaking News

मुस्लिम वोटर्स से अपील पर मिले नोटिस के बाद भी अड़ीं ममता, कहा- अब भी कहूंगी, वोटों का बंटवारा मत करो

मुस्लिम वोटर्स से अपील को लेकर चुनाव आयोग से मिले नोटिस के बाद भी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपने रुख पर अख्तियार कर चुकी हैं। टीएमसी सुप्रीमो ने गुरुवार को एक बार फिर कहा कि वह अब भी एकजुट होकर वोट करने की अपील करेंगी। ममता ने यह भी कहा कि यदि उन्हें 10 कारण बताए जाएंगे तो भी जारी किए जाएं तो भी परवाह नहीं है।

ममता बनर्जी ने दमजुर में एक रैली के दौरान कहा, ” मुझे 10 कारण दिखा नोटिस भी जारी कर दिया जाएगा तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। हम हर किसी से कह रहे हैं कि एकजुट होकर वोट करें, कोई बंटवारा नहीं होगा। नरेंद्र मोदी के खिलाफ किस शिकायतें दर्ज की गई हैं? वह हर दिन हिंदू-मुस्लिम करते हैं। ”

ममता ने आगे कहा, ” उन लोगों के खिलाफ जो कई शिकायतें दर्ज की गई हैं जो नंदीग्राम के मुसलमानों को पाकिस्तानी कहते हैं? क्या वे शर्मिंदा नहीं हैं? वे मेरे खिलाफ कुछ नहीं कर सकते हैं। मैं हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई और आदिवासियों के साथ हूं। ” चुनाव आयोग ने ममता बनर्जी को हुगली में चुनाव रैली के दौरान सांप्रदायिक आधार पर मतदाताओं से अपील करने के लिए बुधवार को एक नोटिस जारी किया है। उन्हें 48 घंटे के भीतर नोटिस पर जवाब देने को कहा गया है।

नोटिस में कहा गया कि चुनाव आयोग को भाजपा के प्रतिनिधिमंडल से शिकायत मिली है जिसमें आरोप लगाया गया है कि 3 अप्रैल को, बनर्जी ने हुगली में तारकेश्वर की चुनाव रैली के दौरान मुस्लिम मतदाताओं से कहा कि उनका वोट विभिन्न दलों में न बंटने दें। ममता बनर्जी ने एआईएमआईएम और आईएसएफ जैसी पार्टियों पर निशाना साधते हुए कहा था, ” मैं हाथ जोड़कर अपने अल्पसंख्यक भाई-बहनों से अपने मतान को नहीं दे रहा और अपने मत को बंटने नहीं देने की अपील करता था जिन्होंने भाजपा से पैसे लिए हैं। ”

बनर्जी ने कहा था, ” वह कई सांप्रदायिक टिप्पणी करता है और हिंदू-मुस्लिम के बीच झगड़ा करवाता है। वह भाजपा का प्रचारक है, साथी है। माकपा और भाजपा के साथी भाजपा से पैसे लेकर अल्पसंख्यकों के मत बांटने के लिए घूम रहे हैं। उन्हें ऐसा न करने दें। ध्यान रखें कि अगर भाजपा सत्ता में आती है तो वह बहुत बड़े खतरे में हैं। ’चुनाव आयोग ने कहा कि उसने पाया है कि उनका भाषण जन प्रतिनिधित्व कानून और आचार संहिता के प्रावधानों का उल्लंघन करता है।




Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button