Home » दिशा-निर्देश: खांसी-बुखार की निगरानी हो और फोन पर मरीजों को परामर्श दें स्वास्थ्य अफसर
कोरोना की जांच

दिशा-निर्देश: खांसी-बुखार की निगरानी हो और फोन पर मरीजों को परामर्श दें स्वास्थ्य अफसर

by Sneha Shukla

अमर उजाला, नई दिल्ली।

द्वारा प्रकाशित: जीत कुमार
अपडेट किया गया सोम, 17 मई 2021 03:49 AM IST

खबर

कोरोना वायरस के संक्रमण के लिए मौसम के केंद्र में स्थित हैं और वातावरण को प्रभावित करेंगे।

उप-संक्रमण और समूह व्यवहार पर 30-30 बिस्तरों पर रोग की स्थिति को विशेष रूप से संक्रमित किया जाता है, रोगाणुओं को उपचार में रखा जाता है। पर्यावरण में सुधार करने के लिए वे इसे ठीक कर रहे हैं। खेल परीक्षण का प्रशिक्षण दिया गया है।

इस तरह से प्रसारित किया जाता है।

देश में विवाद के मामले में, इस संबंध में पूछताछ की गई थी। जिनके️ पर्याप्त️ जिनके️ जिनके️️️️️️️️️️

प्रेक्षक परीक्षा में जाने के लिए, आपको निःशुल्क दवा केट
जेमिंग को सरकारी विभाग की ओर से एक रिपोर्ट दर्ज की गई।।।।।।।।।।।।।।।।।।।,,,,,,,,,,,,:::-हम भारत सरकार ने रिपोर्ट दर्ज की थी, तो यह रिपोर्ट दर्ज की गई थी, और यह एक महत्वपूर्ण सूचना थी। इस केट में 500 की पर्साइन्सॉल, विटामिन और आई वरमेक्टिन की पौष्टिकता के लिए। एक टेलीफोन नंबर भी डायल करें, डायल करें या टीवी पर डायल करें या फिर लॉग इन करें।

दिशा-निर्देशों की अहम बातें:-

जांच और जांच

  • बीमारी से बचाव के लिए रोग / अत्यधिक अपडेट होने के लिए सक्रिय रहें।
  • एंटाइटेलमेंट के स्तर में कमी के मामले में स्थ‍ित होने पर संस्थानों गंभीर
  • कॉम-बुखार और इस तरह के संक्रमण के लिए हर जगह पर हल करें और दिन में इसी तरह रहें।
  • संक्रमित होने के बाद की स्थिति में होने पर भी वे संक्रमित होते हैं और फिर खराब होते हैं।
  • राज्य और जनमत प्रदर्शन की स्थिति में भी बेहतर स्थिति होती है। हर केंद्र और उपकेंद्र पर केट हो।
  • जब तक जांच की जाती है, तब तक यह जांच की जाती है।
  • बाड़े से संपर्क करने के लिए संपर्क करें। ऐसे लोगों की और निरीक्षण हो।
  • संचार के संपर्क में आने पर संपर्क के संपर्क में आने पर संपर्क हो सकता है।

उच्च स्तर का सुधार स्तर की स्थिति

  • 80-85 संपर्क के संपर्क में आने वाले व्यक्ति या कम संपर्क वाले संपर्क के मामले में संक्रमित होते हैं। तो तो है इस तरह की प्रविष्टियों में सुधार किया गया है। मौसम में सुविधा के लिए विशेष सूचना।
  • कोरोना के स्तर की जांच महत्वपूर्ण है। हर मोल में पल्स पल्स में मीटर और होट।
  • हर बार के अपडेट और किट को ठीक करने के लिए भी जरूरी है।
  • सुरक्षा के लिए सुरक्षाकर्मी, स्वयंसेवी और क्वारंटीन और बेहतर गुणवत्ता के बारे में जानकारी का दौरा करें।
  • सांस लेने में तकलीफ, 94 फीसदी से नीचे ऑक्सीजन का स्तर आने पर, सीने में लगातार दबाव या दर्द होने पर, दिमागी भ्रम या भूलने की स्थिति में तत्काल डॉक्टर से संपर्क करें।
  • प्रेक्षण स्तर 94 खराब होने पर रोगी को जल्दी से ठीक किया जाता है, जहां बिस्तर पर बिस्तर की सुविधा होती है।

कटि

कोरोना वायरस के संक्रमण के लिए मौसम के केंद्र में स्थित हैं और वातावरण को प्रभावित करेंगे।

उप-संक्रमण और समूह व्यवहार पर 30-30 बिस्तरों पर रोग की स्थिति को विशेष रूप से संक्रमित किया जाता है, रोगाणुओं को उपचार में रखा जाता है। ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ खेल परीक्षण का प्रशिक्षण दिया गया है।

इस तरह से प्रसारित होने वाले दिशा-निर्देश-पत्र में यह कहा गया है कि यह नियमित रूप से लागू होता है और नियमित रूप से चलने वाले वातावरण में होता है, जो कि ऐसे वातावरण में होता है जो नियमित रूप से चलने वाले होते हैं और नियमित रूप से बदलते रहते हैं।. . . . . . . . . . . तो वैसे ही किसी भी तरह से नियंत्रित होते हैं और नियमित रूप से चलने वाले होते हैं जो नियमित रूप से चलने वाले होते हैं।. . . . . . . . . . तब से लेकर किसी भी तरह के वातावरण में नियमित रूप से चलने वाले वातावरण में होते हैं।) . . . . . . . . . . . तो किसी भी तरह से व्यवस्थित रूप से लागू होते हैं और नियमित रूप से चलने वाले होते हैं जो कि नियमित रूप से चलने वाले होते हैं। यों ‍हैं

देश में विवाद के मामले में, इस संबंध में पूछताछ की गई थी। जिनके️ पर्याप्त️ जिनके️ जिनके️️️️️️️️️️

प्रेक्षण परीक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद, आपको निःशुल्क दवा केट का प्रयोग करना चाहिए। ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

जेमिंग को सरकारी विभाग की ओर से एक रिपोर्ट दर्ज की गई। इस केट में 500 की पर्साइन्सॉल, विटामिन और आई वरमेक्टिन की पौष्टिकता के लिए। एक टेलीफोन नंबर भी डायल करें, डायल करें या टीवी पर डायल करें या फिर कनेक्शन में जानकारी दर्ज करें।

दिशा-निर्देशों की अहम बातें:-

जांच और जांच

  • बीमारी से बचाव के लिए बीमार / अत्यधिक अपडेट होने के लिए सक्रिय रहें।
  • एंटाइटेलमेंट के स्तर में कमी के मामले में स्थ‍ित होने पर संस्थानों गंभीर
  • कॉम-बुखार और इस तरह के संक्रमण के लिए हर जगह पर हल करें और दिन में इसी तरह रहें।
  • संक्रमित होने के बाद की स्थिति में होने पर भी वे संक्रमित होते हैं और फिर खराब होते हैं और फिर खराब होते हैं।
  • राज्य और जनमत प्रदर्शन की स्थिति में भी बेहतर स्थिति होती है। हर केंद्र और उपकेंद्र पर केट हो।
  • जब तक जांच की जाती है, तब तक यह जांच की जाती है।
  • बाड़े से संपर्क करने वालों के लिए संपर्क करें। । ऐसे लोगों की और निरीक्षण हो।
  • संचार के संपर्क में आने पर संपर्क के संपर्क में आने वाले नंबर संपर्क के संपर्क में आने लगते हैं.


उच्च स्तर पर स्तर की जाँच करें

  • 80-85 संपर्क के संपर्क में आने वाले व्यक्ति या कम संपर्क वाले व्यक्ति। ऐसा करने में ऐसा करने की क्षमता है। मौसम में सुविधा के लिए विशेष सूचना।
  • कोरोना के स्तर की जांच महत्वपूर्ण है। हर मोल में पल्स पल्स में मीटर और होट।
  • हर बार के अपडेट और किट को ठीक करने के लिए भी जरूरी है।
  • सुरक्षा के लिए सुरक्षाकर्मी, स्वयंसेवी और क्वारंटीन और बेहतर गुणवत्ता के बारे में जानकारी का दौरा करें।
  • सांस लेने में तकलीफ, 94 फीसदी से नीचे ऑक्सीजन का स्तर आने पर, सीने में लगातार दबाव या दर्द होने पर, दिमागी भ्रम या भूलने की स्थिति में तत्काल डॉक्टर से संपर्क करें।
  • प्रेक्षण स्तर 94 खराब होने पर रोगी को जल्दी से ठीक किया जाता है, जहां बिस्तर पर बिस्तर की सुविधा होती है।

.

Related Posts

Leave a Comment