Home » वाहनों की बिक्री पर कोरोना की दूसरी लहर की मार, अप्रैल में गाड़ियों की बिक्री 30 फीसदी घटी
वाहनों की बिक्री पर कोरोना की दूसरी लहर की मार, अप्रैल में गाड़ियों की बिक्री 30 फीसदी घटी

वाहनों की बिक्री पर कोरोना की दूसरी लहर की मार, अप्रैल में गाड़ियों की बिक्री 30 फीसदी घटी

by Sneha Shukla

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर ने वाहन उद्योग की रफ्तार काफी धीमी कर दी है। लॉकडाउन और अलग-अलग राज्यों में लगाई जाने वाली कोरोना पाबंदियों की वजह से कई कार और टू-व्हीलर्स कंपनियों ने एक से दो सप्ताह के लिए अपने प्लांट्स में प्रोडक्शन बंद रखने का ऐलान किया है। कुछ कंपनियों ने पहले से ऐलान शटडाउन में इजाफा भी किया है। अब इन कंपनियों की परेशानी और बढ़ गई है क्योंकि अप्रैल में इनकी बिक्री में काफी गिरावट आई है।

मार्च की तुलना में गाड़ियों की बिक्री में काफी कमी आई है

इस साल मार्च की तुलना में गाड़ियों की बिक्री 30.18 प्रति घटकर 12,70,45 यूनिट रह गई है। संबंधित कंपनियों के संगठन सलियान के आंकड़ों के मुताबिक, सभी कंपनियों की गाड़ियों की बिक्री में गिरावट देखी गई। यात्री गाड़ियों की बिक्री 10.07 प्रति कम से कम 2,61,633 यूनिट रह गई। कारों की बिक्री 10.06 फीसद घटकर 1,41,194, यूटिलिटी व्हेकिल की 11.02 प्रति घटकर 1,08,871 पर और वैन की 0.31 प्रतिशत घटकर 11,568 यूनिट्स II। पिछले साल देश भर में लगे लॉकडाउन की वजह से सिर्फ 23 थ्री-व्हीलर्स की बिक्री हुई थी, जबकि अन्य दूसरी कैटेगिरी में बिक्री का आंकड़ा शून्य था। इसलिए सलियन ने अप्रैल 2021 के आंकड़ों की तुलना इस साल मार्च के आंकड़ों से की है।

टी-व्हीलर्स की बिक्री में भी काफी गिरावट आई है

टू-व्हीलर्स की बिक्री में भी भारी गिरावट आई है। अप्रैल में इसकी 9,95,097 यूनिट्स बायिक, जो मार्च के मुकाबले 33.52 प्रति कम है। इलेक्ट्रिक टी-व्हीलर्स की बिक्री जहां 83.60 प्रतिशत से अधिक 817 पर पहुंच गई, वहीं ट्रेडिशनल टी-व्हीलर्स की सभी बिक्री की बिक्री में गिरावट दर्ज की गई। इसके अलावा स्कूटरों की बिक्री 34.35 प्रति कम से कम 3,00,462 यूनिट्स पर आ गई। मोटरसाइकिलों की 32.81 प्रति कम से कम 6,67,841 यूनिट्स पर आ गई।

लौह अयस्क के दाम एक ही महीने में तीन गुना बढ़े, स्टील और एक्सपायर होने के आसार

मौदीज ने गया भारत का ग्रोथ रेट अनुमान, 4 प्रति से ज्यादा की कटौती की

Related Posts

Leave a Comment