Home » चाँद धरती से कितना दूर है ? | Chand Dharti Se Kitna Dur Hai ?
Chand Dharti Se Kitna Dur Hai

चाँद धरती से कितना दूर है ? | Chand Dharti Se Kitna Dur Hai ?

by Pritam Yadav

Chand Dharti Se Kitna Dur Hai :- एक नए article में आपका स्वागत है। आमतौर पर तो हम चांद को यूं ही आसमान में कभी भी देख सकते हैं।

कई लोगों की चांद पर जाने की ख्वाहिश होती है। हम धरती से ही सुंदर चांद को देखकर अपना जी भर लेते हैं। साहित्य की नजरों से देखा जाए तो चांद को प्रेम का प्रतीक माना गया है, लेकिन यदि विज्ञान की नजरों से देखा जाए तो चांद अपने साथ ई सारे प्रश्न लाता है।

जब भी हम चांद को देखते हैं, हमारे मन में कई सारे सवाल उठते हैं, जैसे कि–

चांद का आकार क्या है ? चांद कितना बड़ा है ? धरती से कितना दूर है ? चांद को धरती के इर्द-गिर्द घूमने में कितना समय लगता है ? चांद धरती से कितना बड़ा है ? Chand Dharti Se Kitna Dur Hai ? इत्यादि।

ये कुछ ऐसे सवाल है जो हर व्यक्ति के मन में उजागर होते हैं, यदि आप इन प्रश्नों का उत्तर खोज रहे हैं, तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं, क्योंकि आज के इस article में हम आपको चांद और धरती के बीच की दूरी के बारे में बताने के साथ-साथ इन सभी सवालों के जवाब भी देने जा रहे हैं।

इन सभी सवालों के जवाब पाने के लिए हमारे आज के इस article में अंत तक बने रहे।


चाँद धरती से कितनी दूरी पर हैं ? – Chand Dharti Se Kitna Dur Hai

अक्सर जब भी हम चांद को पृथ्वी पर से देखते हैं, तो हमें लगता है, कि चांद काफी पास है। लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं होता चांद धरती से करोड़ों मील दूर है।

Chand Dharti Se Kitna Dur Hai :- चांद और धरती के बीच का फासला लगभग 384,403 किलोमीटर (238,857 मील) का है।

लेकिन दोस्तों यहां पर ध्यान देने योग्य बात यह है, कि चांद और धरती के बीच का फासला हमेशा एक जैसा नहीं होता।

यह बात तो हम सभी जानते हैं, कि चांद धरती के इर्द-गिर्द घूमता रहता है और यही कारण है कि चांद कभी धरती के नजदीक होता है और कभी कभी बहुत दूर होता है । इसलिए चांद हमें कभी-कभी काफी बड़ा और कभी-कभी छोटा दिखाई पड़ता है।


चांद का वजन कितना है ?

चांद को धरती की natural satellite भी कहा जाता है। इसका वजन वैज्ञानिकों के अनुमान अनुसार लगभग 81 अरब टन है।


क्या चांद के पास खुद की रोशनी होती है ?

दोस्तों चांद की चांदनी की तो दुनिया भी दीवानी है। हिंदू समाज में पूर्णिमा का दिन काफी शुभ माना गया है जिसमें चांद की रोशनी अर्थात चांदनी को काफी पवित्र माना गया है।

लेकिन दोस्तों चांद के पास खुद की रोशनी नहीं होती। चांद सूर्य की रोशनी द्वारा चमकता है। जी हां दोस्तों रात के समय चांद की चांदनी वास्तव में सूर्य द्वारा प्राप्त की गई रोशनी होती है।


चांद का आकार क्या है ?

आप सभी ने चांद तो अवश्य ही देखा होगा। तो आपने चांद को किस आकार का पाया ? आपने से शत-प्रतिशत लोगों का जवाब गोलाकार होगा।

पृथ्वी से देखने पर सभी लोगों को चांद गोलाकार का लगता है. लेकिन वास्तव में चांद गोल नहीं परंतु अंडाकार का है। सौरमंडल में मौजूद सभी ग्रहों के पास अपने अपने चांद है और धरती के पास केवल एक ही चांद है, जिसे धरती का natural satellite भी कहा जाता है।


चांद से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण तथ्य :-

  • आम दिनों के मुकाबले पूर्णिमा वाले दिन चांद की रोशनी 9 गुना अधिक होती है।
  • यदि क्षेत्रफल की बात की जाए तो चांद का छेत्रफल साउथ अफ्रीका के क्षेत्रफल जितना है।
  • वैज्ञानिकों के मुताबिक चांद का वह हिस्सा जो प्रकाशित होता है उसका तापमान अधिकतम 180 डिग्री तक भी पहुंच जाता है।
  • चांद का वह हिस्सा जहां पर प्रकाश नहीं पहुंच पाता उसका तापमान न्यूनतम 159 डिग्री तक पहुंच जाता है।
  • धरती से चांद का केवल 59% हिस्सा ही दिखाई देता है।
  • यदि चांद गायब हो जाए तो धरती पर केवल 6 घंटे ही दिन रहेगा।
  • आज तक चांद पर केवल 12 व्यक्ति ही गए हैं।
  • चांद तक पहुंच पाने में करीब 3 दिन का समय लगता है।
  • धरती के मुकाबले चांद केवल 27% है।
  • हमारे सौर मंडल यानि के Solar System में करीब 181 अन्य उपग्रह मौजूद है है जिनमे चाँद 5वे स्थान पर आता है।
  • चांद पर पानी मौजूद है इस बात की खोज भारत द्वारा की गई थी।
  • सूर्य के मुकाबले में चांद सूरज से करीब 400 गुना छोटा है।

FAQ’S :

Q1. चाँद को धरती के चक्कर लगाने में करीब कितना वक़्त लगता है ?

Ans - चांद को धरती का चक्कर लगाने में लगभग 1 माह का समय लगता है।

Q2. चंद्रग्रहण क्या होता है ?

Ans - जब कुछ समय के लिए सूर्य और धरती के बीच में चांद आ जाता है और धरती के आधे हिस्से में अंधेरा छा जाता है उस स्थिति को चंद्रग्रहण कहा जाता है।

Q3. क्या चांद पर पानी मौजूद है?

Ans - जी हां दोस्तों चांद पर बहुत थोड़ी मात्रा में ही सही लेकिन पानी जरूर मौजूद है। और यह गर्व की बात है कि इस बात की पुष्टि भारत द्वारा ही की गई थी।

Q4. चांद और धरती के बीच की दूरी का पता और बाकी ग्रहों के बीच की दूरी का पता किस प्रकार से लगाया जाता है ?

Ans - चांद और धरती के बीच की दूरी तथा अन्य ग्रहों के बीच की दूरी का पता वैज्ञानिकों द्वारा रडार किरणों की सहायता से लगाया जाता है।

Q5. किस ग्रह के पास कितने चांद मौजूद हैं ?

Ans - हर एक गृह के पास अपने अपने चाँद है, मंगल गृह के पास 2 चाँद हैं, 
जुपिटर के पास 10 चाँद हैं, शनि ग्रह के पास 62 चाँद हैं ,यूरेनस के पास 27 चाँद हैं , 
Neptune के पास 14 चाँद हैं, और धरती के पास 1 ही चाँद हैं।

Q6. चाँद पर जाने वाला पहला व्याक्ति कौन था ?

Ans - चाँद पर जाने वाले पहले व्यक्ति का नाम नील आर्मस्ट्रांग था। वह चाँद पर 21 जुलाई 1969 को चाँद पर पहुंचा था।

निष्कर्ष :

आज के इस article में हमने आपको चांद और धरती के बीच की दूरी के साथ-साथ कई और महत्वपूर्ण प्रश्नों के जवाब भी दिये।

उम्मीद करते हैं, कि आपको इस Article Chand Dharti Se Kitna Dur Hai में बताई गई सभी बातें अच्छी तरह से समझ में आ गई होंगी।

यदि आपको हमारा आज का यह लेख useful लगा है, तो इसे like अवश्य करें और अपने दोस्तों के साथ share करना ना भूले। Article से संबंधित प्रश्नों को आप comment section द्वारा हम तक पहुंचा सकते हैं।


Read Also :-

Related Posts

Leave a Comment